विटामिन ' के ' की कमी से होने वाली समस्याएं, उपयोगिता और प्राप्ति के साधन

विटामिन ' के ' की उपयोगिता और प्राप्ति के साधन

विटामिन हमारे शरीर के लिए बहुत उपयोगी तत्व है।ये हमारे स्वास्थ्य के लिए अतिआवश्यक है।विटामिनयुक्त भोजन लेने से हमारे शरीर में संतुलन बना रहता है और अंग स्वस्थ रहते है।इनकी कमी से कई प्रकार के रोग हो जाते है।भोजन पचाने और शरीर को शक्ति देने में यह बहुत सहायक है।

 विटामिन ' के ' की  उपयोगिता और प्राप्ति के साधन 

विटामिन ' के ' हमारे लिए उतना ही जरूरी है जितना की जीवित रहने के लिए हमारा सांस लेते रहना।यह विटामिन सूर्यताप और प्रकाश से नष्ट हो जाता है।पर यह आंतो में निर्मित होता रहता है।इसलिए इसकी आवश्यकता बहुत कुछ अपने आप पूरी होती रहती है। 

विटामिन ' के ' की उपयोगिता : विटामिन ' के ' रक्त को जमाने का काम करता है।अगर इस विटामिन की कमी हो जाये तो रक्तस्त्राव (खून का बहाव) को रोकना मुश्किल हो जाता है।ये विटामिन लीवर को भी स्वस्थ रखता है।यह ग्लूकोज को कोशिकाओं की झिल्ली में प्रवेश कराने में और ग्लूकोज को ग्लाइकोजन में परिवर्तित करने में भी मददगार होता है। 

प्राप्ति के साधन : विटामिन ' के ' हरी साग-सब्जियों, अंडे की जर्दी, टमाटर, सोयाबीन, आलू, गोभी, छिलकेयुक्त अनाज  और मक्खन से मिल जाता है। 

विटामिन ' के ' की कमी से होने वाली समस्याएं 

  • विटामिन ' के ' की कमी होने से हड्डियों को कमजोर करने वाली बीमारी हो जाती है जिससे की हड्डियां कमजोर और खोखली हो जाती है।45 से ज्यादा उम्र की लोगों को विटामिन के का सेवन भरपूर मात्रा में करना चाहिए।
  • विटामिन ' के ' की कमी होने से व्यक्ति को हार्ट की समस्या का भी हो सकती है क्योकि विटामिन ' के ' का  संबंध रक्त से होता है और रक्त को पंप करने का काम हार्ट का है। 
  • विटामिन ' के ' की कमी होने पर आपको लगने वाली हर छोटी या बड़ी चोट पर बहने वाला रक्त (खून) रोकना मुश्किल हो जाता है क्योकि इसकी कमी सीधे ब्लड क्लॉटिंग की प्रक्रिया पर असर डालती है। 

अगर आपको मेरा ये आर्टिकल पसंद आया तो इसमें लिखें उपचार का प्रयोग कर परिणाम नीचे दिए कमेंट बॉक्स में सूचित करने की कृपा करें।धन्यवाद 😊😊

विटामिन ' के ' की उपयोगिता और प्राप्ति के साधन | विटामिन ' के ' की कमी से होने वाली समस्याएंविटामिन ' के ' की कमी होने पर आपको लगने वाली हर छोटी या बड़ी चोट पर बहने वाला रक्त (खून) रोकना मुश्किल हो जाता है क्योकि इसकी कमी सीधे ब्लड क्लॉटिंग की प्रक्रिया पर असर डालती है।